Ticker

10/recent/ticker-posts

Welcome to the website of the world's largest political party

Welcome to the website of the world's largest political party



narendra modi youtube

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं केंद्रीय मंत्री श्री पीयूष गोयल एवं श्री अनुराग ठाकुर के संयुक्त सार्वजनिक साक्षात्कार के केंद्रीय अंक

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और केंद्रीय मंत्री श्री पीयूष गोयल और श्री अनुराग ठाकुर ने बुधवार को नई दिल्ली में भाजपा के केंद्रीय कार्यालय में आयोजित सार्वजनिक साक्षात्कार में भाग लिया और अत्यधिक आपातकाल की घड़ी में यूक्रेन से ऑपरेशन गंगा पर विस्तृत जांच की। प्रत्येक भारतीय की सुरक्षित वापसी की गारंटी के लिए माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के उत्सुक प्रयासों को पसंद किया और नकारात्मक सरकारी मुद्दों के लिए कांग्रेस पार्टी और उसके सहयोगियों पर स्पष्ट रूप से हमला किया।

भारत जैसा कोई देश नहीं है, जिसने इतनी जद्दोजहद दिखाई हो कि वहां के निवासी भीषण संघर्ष की आग में जल रहे हों। दिलचस्प बात यह है कि स्वायत्तता के बाद देशवासियों के व्यक्तित्व में यह धारणा उभरी है कि चाहे वे किसी भी देश में हों, किसी भी आपात स्थिति में फंस जाते हैं, फिर भी भारत सरकार और माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी दूर करेंगे। हमें आपातकाल से

केवल तीन हफ्तों में यूक्रेन से लगभग 20,000 भारतीयों का एक भीषण संघर्ष में आगमन हम सभी रिश्तेदारों के लिए गर्व की बात है। पिछले साढ़े सात वर्षों में, उल्लेखनीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने देश को पूरे विश्व में खड़ा किया है, भारत को लगातार इसका पूरा लाभ मिल रहा है। हमें खुशी है कि ऑपरेशन गंगा के तहत पूर्वी यूक्रेन से सभी भारतीय छात्रों को खाली कर दिया गया है। छात्रों का अंतिम समूह इसी तरह संघर्षग्रस्त सुमी जिले से पश्चिमी यूक्रेन की ओर यूक्रेन की सीमा तक चला गया है और जल्द ही विभिन्न देशों के माध्यम से भारत पहुंचेगा।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने स्वयं इस मामले को गम्भीरता से देखा। उन्होंने इस मामले को लेकर 8 अहम स्तरीय बैठकें कीं। प्रत्येक सभा के बाद इस संबंध में गंभीर प्रगति की गई कि कैसे प्रत्येक निवासी को भारत वापस ले जाया जा सकता है। राज्य प्रमुख ने कई बार विश्व के विशाल प्रमुखों को संबोधित किया। रूस के राष्ट्रपति पुतिन से कई बार और यूक्रेन के राष्ट्रपति ज़ेलेंस्की से दो बार बात की।

माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने इस कार्य में लोक प्राधिकरण, गैर सरकारी संगठनों, आम जनता के विभिन्न व्यक्तियों की प्रत्येक प्रणाली को इस लक्ष्य से जोड़ा था कि हमारे निवासी सुरक्षित वापस आ सकें। भारत से संबंधित व्यक्ति जो यूक्रेन और अन्य निकटवर्ती देशों में रहते हैं, उद्योग और गैर सरकारी संगठनों की प्रतिबद्धता और प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के अथक प्रयासों ने उनके प्रभावी प्रस्थान को प्रेरित किया। मैं इस काम से जुड़े सभी संघों और प्रतिनिधियों को धन्यवाद देना चाहता हूं।

इतने सारे आपातकाल के बीच, इतने सारे मुद्दों के बीच, जिस तरह से माननीय प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी ने पूरे मिशन को चलाया, ऐसा कोई दूसरा मॉडल नहीं हो सकता है। माननीय प्रधान मंत्री ने अपने चार वरिष्ठ पुजारियों को यूक्रेन के निकटवर्ती देशों में भेजा, उन्होंने वहां के राष्ट्राध्यक्षों से बातचीत की, जिसके कारण हमें भी उन देशों से सभी संभावित भागीदारी मिली। हमने सामान्य एवियोनिक्स और भारतीय वायु सेना के हवाई जहाज भेजकर यूक्रेन में फंसे लोगों को वापस लाने का काम किया है।

कई देश यूक्रेन से अपने परिजनों को निकालना भूल गए हैं, जबकि भारत ने अपने रिश्तेदारों को उस समय से आसपास के देशों के माध्यम से प्रभावी ढंग से खाली कर दिया है, इतना ही नहीं यह लोग उस समय से अपने पालतू जानवरों को अपने साथ ले जाने के मामले में भी प्रबल हुए हैं। हुह। इसी तरह हमने नेपाल, पाकिस्तान और बांग्लादेश के निवासियों को निकालने में मदद की है, जो निस्संदेह हमारे लिए सम्मान का विषय है।

रूस-यूक्रेन युद्ध के दौरान पूरी दुनिया ने तिरंगे के महत्व को देखा था। यूक्रेन से सुरक्षित लौटे छात्रों ने यह भी बताया है कि किस तरह दूसरे देशों के नागरिक भी तिरंगे की वजह से निकलने को तैयार थे।

प्रतिरोध समूहों को इस कठिन समय में यूक्रेन में पकड़े गए लोगों के समूहों से मिलना चाहिए था, उन्हें सक्रिय होना चाहिए था और उनकी मदद करनी चाहिए थी, बल्कि वे गलत दिशा में काम कर रहे थे। इसी तरह कांग्रेस पार्टी ने यूक्रेन से भारतीयों के प्रस्थान के असाइनमेंट में विवाद में उतरने का प्रयास किया। जब किसी परिवार में कोई आपात स्थिति होती है, तो लोग आम बहस छोड़ देते हैं और उस आपात स्थिति को प्रबंधित करने में लग जाते हैं, फिर भी दुर्भाग्य से कुछ कांग्रेसी प्रमुखों ने इस दौरान भी गलत डेटा फैलाया।

यूक्रेन में पकड़े गए 18.5 हजार छात्रों के समूह में पहुंचे भारतीय जनता पार्टी के मजदूर। इसके लिए माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा के अधिकार में पार्टी कार्यकर्ताओं के लगभग 2,000 समूहों का गठन किया गया। इस समूह ने विभिन्न यूक्रेन में छोड़े गए छात्रों और नियमित लोगों के रिश्तेदारों से मुलाकात की, उन्हें सांत्वना दी, केंद्र सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों के बारे में बताया और उन परिवारों के मुद्दों के बारे में केंद्र सरकार को सूचित किया।

तहसीलदार से लेकर कलेक्टर तक की शासकीय सरकार ने भी परिजनों से मुलाकात कर जानकारी ली




Post a Comment

0 Comments